Singodi Sweet: इसके आगे सभी मिठाइयों का स्वाद है फिका

Singodi Sweet (सिंगोड़ी) उत्तराखंड की सबसे फेमस मिठाई मैं से एक है और उत्तराखंड में भी यह सबसे फेमस अल्मोड़ा की हैI इस मिठाई को खाकर आप किसी भी मिठाई का टेस्ट भूल जाएंगेI 

Singodi Sweet Uttarakhand in Hindi

Singodi Sweet (सिंगोड़ी)
Singodi Sweet (सिंगोड़ी)

उत्तराखंड ने  तीर्थ स्थलों के कारण तो मशहूर है इसके अलावा भी यहां पर कुछ ऐसी लजीज मिठाइयां मिलती है जो कि शायद पूरे भारत में कहीं नहीं मिलतीI  इन्हीं कुछ मिठाइयों में से आज हम बात करने वाले हैं Singodi Sweet (सिंगोड़ी) की जो कि उत्तराखंड में मशहूर है “पत्ते वाली मिठाई” के नाम सेI

यह मिठाई आपको उत्तराखंड  मैं कहीं भी मिल जाएगी लेकिन यदि आप उत्तराखंड के अल्मोड़ा जिले की तरफ आए हैं तो कोशिश कीजिए कि वही से  सिंगोड़ी मिठाई को खरीदें इसके साथ आप यहां से बाल मिठाई और चॉकलेट वाली मिठाई भी खरीद सकते हैं जो केवल अल्मोड़ा की ही सबसे स्वादिष्ट मानी गई हैI

Singodi Sweet (सिंगोड़ी) को पत्ते में ही क्यों लपेटा जाता है?

Singodi Sweet (सिंगोड़ी)
Singodi Sweet (सिंगोड़ी)

आइए जानते हैं सिंगोड़ी मिठाई को पत्ते में ही क्यों लपेटा जाता है और यह पत्ता कौन सा होता हैI  यह एक कहानी है जो कि एक ब्रिटिश से जुड़ी हुई है जब यहां पर एक अंग्रेज उत्तराखंड घूमने के लिए आया तो उसने यहां से  सिंगोड़ी मिठाई  खरीदी उसे यह बहुत पसंद आए उस टाइम पर दुकानदार ने उस मिठाई को पास ही के एक पेड़ से पत्ता तोड़ कर उसमें रखकर अजीत ही और यह पता मालू नामक पेड़ का थाI

दूसरे समय जब वह दोबारा मिठाई लेने आया तो दुकानदार हैI उसे वह मिठाई डब्बे में दे दी क्योंकि इस बार उसने पूरा 1kg खरीदी थी लेकिन इस बार उसे इस मिठाई में बिल्कुल भी टेस्ट नहीं आया यह सब उसने दुकानदार को जाकर बोला कि तुम्हारी मिठाई में बिल्कुल भी टेस्ट नहीं है जबकि पहली बार जब आई थी तो उसे बहुत स्वादिष्ट  लगी थीI

उसी अंग्रेज ने दुकानदार को यह बताया कि जिस पत्ते में तुमने मिठाई लपेट कर दी थी उस पत्ते की वजह से इस मिठाई का टेस्ट और भी बढ़ जाता हैI दुकानदार इस बात को समझ गया और उसने तब से ही मालू के पत्ते मिल सिंगोड़ी को  लपेट कर देना शुरू कर दियाI आज तक यही चलता आ रहा है जिस वजह से  सिंगोड़ी का टेस्ट बेहतरीन हैI

Singori Sweet recipe

Singodi Sweet को बनाने के लिए सबसे पहले कुछ सामान की आवश्यकता पड़ेगी जो निम्न प्रकार है:

  • 500 ग्राम खोया
  • डेढ़ कप चीनी 
  • आधा कप नारियल का बुरादा
  • एक चम्मच इलायची पाउडर 
  • कुछ मालूम के पत्ते जिसमें आप मिठाई को लपेटेगे I

जो हमारे पास यह सारा सामान हो जाए तो  हम शुरू करते हैं सिंगोड़ी बनाना:-

Singodi Sweet (सिंगोड़ी)
Singodi Sweet (सिंगोड़ी)

 इसके लिए सबसे पहले हम एक कढ़ाई में खोए और चीनी को गैस पर चढ़ाएंगे और तब तक हिलाते रहेंगे जब तक यहां अच्छे से मिक्स ना हो जाए I इसके बाद इसमें नारियल का बुरादा और इलायची पाउडर को डालेंगे चार पांच मिनट तक इसे अच्छे से भूनेगेI अब इसे ठंडा होने के लिए रख देंI

जब यह ठंडा हो जाए तो मालू के पत्ते को शंकु आकार में लपेटकर उसके अंदर  इसे भर देI ऐसा करने के बाद इसे कम से कम 11 से 12 घंटे के लिए छोड़ दें ताकि इसमें मालू के पत्तों की स्मेल आ जाए जिससे और स्वादिष्ट हो जाएI  अब 12 घंटे बाद सिंगोड़ी मिठाई बनकर तैयार हैI

Singori Sweet Price

Singodi Sweet का रेट लगभग आपको 600 से लेकर 700 रुपए प्रति किलोग्राम देखने को मिल जाता हैI यह मिठाई शायद आपको ऑनलाइन नहीं मिलेI इसे लेने के लिए आपको उत्तराखंड आना पड़ेगा या फिर अगर आपका कोई जान पहचान का उत्तराखंड में आ रहा है तो उसके जरिए आप यह मिठाई मंगवा सकते हैंI

आप अपना टूर यहां पर क्लिक करके बुक कर सकते हैंI

निष्कर्ष

यदि आप उत्तराखंड घूमने आ रहे हैं और आप चाहते हैं कि आप उत्तराखंड को अच्छे से देखें और उसकी सांस्कृतिक धरोहरों को अच्छे से फील करें तो उसके लिए आपको उत्तराखंड से जुड़ी हर चीज को बारीकी से देखना होगाI 

जैसे आप यहां पर तीर्थ स्थलों के अलावा माउंटेन, यहां के  झरने, यहां की संस्कृति और सबसे महत्वपूर्ण यहां के सबसे बेहतरीन भोजन और  मिठाइयों का अनुभव कीजिएI  इन सब चीजों को करने के बाद आप  उत्तराखंड को अच्छे से जान पाएंगेI धन्यवादI

FAQ’s

उत्तराखंड की राजकीय मिठाई कौन सी है?

उत्तराखंड की राजकीय मिठाई बाल मिठाई हैI

बाल मिठाई के लिए उत्तराखंड में कौन सा शहर प्रसिद्ध है?

बाल मिठाई के लिए उत्तराखंड में अल्मोड़ा फेमस हैI

यह भी पढ़ें:

Related Article:

Latest Article:

Leave a Comment

उत्तराखंड का विशेष पर्व फूलदेई क्यों मनाया जाता है? नए जोड़ों को क्यों पसंद है हनीमून के लिए नैनीताल आना I इसके बाद पूरे साल नैनीताल में बर्फ देखने को नहीं मिलेगी UCC के 10 ऐसे पॉइंट जो सबको पता होने चाहिए नैनीताल की बर्फ में खेलने का सबसे अच्छा समय है अभी